रिटायर्ड डीएसपी को बदमाशों ने पीटा, पटना पुलिस ने लिया बदमाशों का पक्ष

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| राजधानी पटना (Capital Patna) में अपराधियों और बदमाशों के हौंसले बहुत बुलंद हैं. इसका ज्वलंत उदाहरण रविवार रात उस समय देखने को मिला जब एक रिटायर्ड डीएसपी (Retired DSP) की कुछ बदमाशों ने लाठी-डंडों से बुरी तरह पिटाई कर दी.

जानकारी के मुताबिक, रिटायर्ड डीएसपी नरेश प्रसाद शर्मा की अपराधियों ने लाठी-डंडों से बुरी तरह पिट डाला. मामला राजीवनगर (Rajeevnagar PS Patna) थानांतर्गत जयप्रकाश नहर नाले के पास की है. हैरानी तो तब हुई जब पुलिस ने पीड़ित डीएसपी का साथ देने की बजाय बदमाशों का पक्ष लिया.

पहले डीएसपी की गाड़ी में मारी टक्कर

अपने इंस्पेक्टर के कार्यकाल में ढाई साल सचिवालय थाने (Sachivalay Thana Patna) के थानेदार रह चुके नरेश प्रसाद शर्मा अपनी गाड़ी से कहीं जा रहे थे. इसी दौरान बाइक सवार कुछ युवकों ने उनकी गाडी में टक्कर मार दी. जब नरेश प्रसाद ने इसका विरोध किया तो बाइक सवार युवकों ने उन्हें मारना-पीटना शुरू कर दिया.

बदमाश युवकों ने लाठी-डंडों से पीड़ित की जमकर पिटाई कर दी. इसपर रिटायर्ड डीएसपी ने मारपीट करने वाले दोनों युवकों को स्थानीय लोगों की मदद से पकड़ लिया. सबने मिलकर दोनों बदमाशों को राजीवनगर थाने के हवाले कर दिया.

नामजद मामला कराया दर्ज

पीड़ित रिटायर्ड डीएसपी नरेश प्रसाद शर्मा ने दोनों बदमाशों के खिलाफ राजीवनगर थाने में नामजद केस दर्ज करवाया. नरेश प्रसाद ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए बताया कि राजीवनगर थाने में मामला दर्ज करवाने के समय वहां उपस्थित मुंशी व अन्य पुलिसकर्मियों ने केस दर्ज करने की बजाए सुलह करने के लिए दबाव बनाया. साथ ही, पुलिसवालों ने दोनों बदमाशों पर कोई कार्यवाई न करते हुए बाद में उन्हें छोड़ दिया. सोमवार को थाने ने पीड़ित रिटायर्ड डीएसपी को केस की कॉपी दी गयी.

नहीं लगाई थी कई धाराएं

पीड़ित नरेश प्रसाद उस समय आश्चर्यचकित रह गए जब उन्होंने यह पाया कि पुलिस ने बदमाशों के खिलाफ कई धारायें नहीं लगाई है. इस पर उन्होंने थाने पर पुलिस को उचित धाराएं लगाने के लिए कहा. पुलिस ऐसा करने से आनाकानी करने लगी.

मामले को बढ़ता देख थाने पर पहुंचे पटना के डीएसपी (लॉ एण्ड ऑर्डर) संजय कुमार ने बीच बचाव किया और मामले को शांत किया. डीएसपी (लॉ एण्ड ऑर्डर) संजय कुमार के कहने पर पुलिस ने एफआईआर में उन धाराओं को भी जोड़ दिया जो पहले नहीं जोड़ी गई थी.