कैसे टूटा सुशांत के कमरे का लॉक, स्ट‍िंग ऑपरेशन में चाबीवाले ने किया खुलासा

सुशांत सिंह राजपूत मामले में अबतक का सबसे बड़ा खुलासा हुआ है. स्पेशल इंवेस्टिगेटिव टीम ने सुशांत केस में एक बड़ा स्टिंग ऑपरेशन किया है.
जिस चाबीवाले ने सुशांत का कमरा खोला था उसने आज कई खुलासे किए हैं.

14 जुलाई 2020 को सुशांत सिंह के घर के कमरे का ताला तोड़ने वाले शख्स ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए. जिसने चाभी खोला उसका नाम मोहम्मद रफी है उसने बताया कि उसे उस दिन फोन करके बुलाया गया था.

रिपोर्टर- लॉक कहां था, लॉक कौनसा वाला तोड़ा आपने
मोहम्मद रफी शेख- बेडरूम का लॉक
रिपोर्टर- बेडरूम का लॉक था
मोहम्मद रफी शेख- हां
रिपोर्टर- कौनसा लॉक तोड़ा
मोहम्मद रफी शेख- computerize key वाला था
रिपोर्टर- फिर कैसे तोड़ा आपने?
मोहम्मद रफी शेख- तोड़ डाला, छुरा और हथोड़ी से तोड़ डाला.

मोहम्मद रफी शेख ने कहा- लॉक तोड़ा, लॉक तोड़ने के बाद जैसे ही दरवाजा खुला उन लोगों ने मुझे कुछ देखने ही नहीं दिया. कुछ भी दिखा नहीं. जैसे ही दरवाजा खुला वो लोग बोले कि आप लोग चले जाओ.

रिपोर्टर- किसने बोला कि आप चले जाओ?
मोहम्मद रफी शेख- उधर 4 जन थे 3-4 जन थे उन लोगों का नाम नहीं पता मेरे को. तब तक पुलिस भी नहीं आई थी.
रिपोर्टर- वो लोग घबराए हुए लग रहे थे?मोहम्मद रफी शेख- नहीं घबराए हुए तो नहीं लग रहे थे. मुझे तो पता भी नहीं था कि अंदर क्या है.
रिपोर्टर- कितने बजे की बात है?मोहम्मद रफी शेख- डेढ़-पौने दो बजे की बात है.

रिपोर्टर- कितने पैसे दिये उन्होंने?
मोहम्मद रफी शेख- मैं उनको बोला था कि ये computerize key वाला लॉक है, वो टफ रहता है, इसका 1500 से 2000 का खर्चा आता है. 2000 रुपया बोला तो वो बोले चलेगा पैसे का टेंशन नहीं है.

रफी ने बताया कि दूसरी बार मुंबई पुलिस का फोन आया. रफी को समझ नहीं आया कि पुलिस उसको वापस क्यों बुला रही है.

रिपोर्टर- आप दो बार गए?
मोहम्मद रफी शेख- हां दो बार गया.
रिपोर्टर- पहली बार में क्या देखा?
मोहम्मद रफी शेख- पहली बार में तो लॉक खोल कर आया ना. उन लोगों ने कॉल किया मेरे को मैं गया, यहां से लॉक तोड़ा जैसे खोला उन लोगों ने दिखाया नहीं मेरे को. वो बोले जाओ, मैं समान लेकर वापस आ गया. फिर एक घंटे के बाद कॉल आया पुलिस का कि आप जिधर लॉक तोड़ कर गए हैं आप वापस आ जाओ फिर मैं वापस गया.

रिपोर्टर- जब आपको पहली बार ताला तोड़ने के लिए बुलाया गया था तब आपको पता था कि वो सुशांत सिंह का फ्लैट हैं?
मोहम्मद रफी शेख- नहीं, नहीं पता था जब सेकंड टाइम मुझे कॉल आया न सेकंड टाइम कॉल आने के बाद जब मैं गया उनके घर पर तब मुझे मालूम हुआ.

Advertisements