कथित डॉक्टर का शराब पीकर हंगामा, गर्दनीबाग पुलिस ने किया गिरफ्तार

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| राजधानी पटना में मंगलवार को एक कथित शराबी डॉक्टर को गर्दनीबाग पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल (The alleged drunken doctor was arrested by the Gardanibagh police and sent to jail) भेज दिया. गिरफ्तार कथित डॉक्टर खुद को आईजीआईएमएस, पटना (IGIMS, Patna) का डॉक्टर बता रहा था जबकि आईजीआईएमएस प्रबंधन ने गलत बताया है.

दरअसल भरत भूषण नाम का एक आदमी मंगलवार दोपहर गर्दनीबाग थानान्तर्गत ( Gardanibagh Police Station) मौसम विज्ञान केंद्र, खोजाई इमली के पास नशे में धुत होकर हंगामा कर रहा था. वह वहां राहगीरों से झगड़ा कर रहा था. इस पर स्थानीय लोगों ने उसे पकड़ कर पीटना शुरू कर दिया.

इसी बीच किसी ने इसकी सूचना गुप्त रूप से थाना को दी और फोन पर कहा कि सड़क पर कोई शख्स हंगामा कर रहा है. मारपीट की स्थिति बनी हुई है और उसके मुंह से शराब की बदबू आ रही है. इसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंच कर उस शराबी कथित डॉक्टर को भीड़ से छुड़ाकर अपने साथ ले गई.

वहां से उसे गर्दनीबाग अस्पताल ले जाकर उसका इलाज कराया गया. फिर पुलिस उसे गर्दनीबाग थाने ले गई जहां उसकी ब्रेथ एनालाईजर से जांच की गई. जांच में उसके शराब पीने की पुष्टि हो गई. उसके बाद पुलिस द्वारा कथित डॉक्टर के खिलाफ कागजी कार्यवाई कर उसे जेल भेज दिया गया.

यह भी पढ़ें| Jio जल्द हजार शहरों में लॉन्च करेगा 5G

इधर गिरफ्तार व्यक्ति ने गर्दनीबाग थानाध्‍यक्ष अरुण कुमार को बताया कि वह आईजीआईएमएस के गैस्ट्रोलॉजी डिपार्टमेंट में सर्जन है, लेकिन फिलहाल वह पोस्‍टमार्टम विभाग में पोस्टेड है. पुलिस ने जब डॉक्टर की जानकारी अस्पताल से ली तो पता चला कि भरत भूषण नाम का कोई डॉक्टर वहां नहीं है.

आईजीआईएमएस के मेडिकल सुपरीटेंडेंट डा. मनीष मंडल ने बताया कि इस नाम का कोई डाक्‍टर यहां नहीं हैं. साथ ही फोरेंसिक विभाग के हेड डा. अमन कुमार ने भी ऐसे किसी डाक्‍टर के होने से इंकार किया.