क्वारंटाइन सेंटर पर हमले के दोषियों पर FIR दर्ज

सीवान (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट) :- बिहार के सीवान में शनिवार को क्वारंटाइन सेंटर में कोरोना वायरस के संदिग्धों ने अस्पताल प्रशासन के सरकारी कर्मचारियों पर हमला कर दिया था और क्वारंटाइन सेंटर में हंगामा खड़ा कर दिया था. हंगामा इतना ज्यादा बढ़ गया था कि कर्मियों को वहां से जान बचाकर भागना तक पड़ गया. अब राज्य सरकार ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सीवान के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को इस मामले में जमकर फटकार लगते हुए क्वारंटाइन सेंटर में हंगामा करने वाले कोरोना संदिग्धों के ऊपर सख्त करवाई करटे हुए एफआईआर दर्ज आदेश दिया है  

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने इस मामले में बात करते हुए कहा है कि “सीवान के क्वारंटाइन सेंटर में हंगामा करने वाले दोषियों के ऊपर सख्त कार्रवाई की जाएगी. इसके साथ ही सरकार के आदेशानुसार  इस मामले में सभी दोषियों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज की जाएगी. उनकी क्वारंटाइन अवधि खत्म होने के बाद कानूनी कार्यवाही भी होगी”. डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने कोरोना वायरस के विरोध में आने वाले लोगों को चेतावनी देते हुए कहा है कि “जो लोग भी कोरोना वायरस से निपटने के लिए सरकार की तरफ से उठाए जा रहे कदमों का विरोध कर रहे हैं. उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी और उन्हें जेल भी भेजा जायेगा”.

बता दें कि शनिवार को सीवान में रघुनाथपुर के राजपुर मिडिल स्कूल में क्वारंटाइन सेंटर पर कोरोना के संदिग्धों ने वहां तैनात सरकारी कर्मचारियों पर हमला कर दिया था. इस दौरान संदिग्धों ने जमकर नारेबाजी भी की थी. हंगामा इतना जबरदस्त था कि सरकारी कर्मचारी कर्मियों को वहां से जान बचाकर भागना पड़ा था. ऐसा ही एक और मामला अभी हाल ही में कुछ दिन पहले मुंगेर से सामने आया था जिसमे असामाजिक तत्वों द्वारा हंगामा मचा कर पुलिस व मेडिकल टीम पर पत्थरबाजी किया करने का मामला सामने आया है. राज्य सरकार ने इस मामले को बेहद गंभीरता से लेते हुए कड़ी कार्यवाही का आदेश दिया है.