सीतामढ़ी के प्रसिद्ध डॉक्टर को अपराधियों ने मारी गोली, एक महिला नर्स की मौत

गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा सीतामढ़ी,
सीतामढ़ी के प्रसिद्ध डॉक्टर शिवशंकर महतो को अपराधियों ने मारी गोली,
मौके पर एक महिला नर्स का हुई मौत,
डॉक्टर को गंभीर स्थिति में शहर के निजी अस्पताल में कराया गया भर्ती

सीतामढ़ी (TBN – The Bihar Now डेस्क)| सीतामढ़ी में बदमाशों ने नर्सिंग होम में घुसकर जिले के प्रसिद्ध चिकित्सक और नर्स को गोलियों से भून डाला है. इस घटना में जहां एक नर्स की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं जख्मी चिकित्सक का इलाज बगल के ही एक निजी अस्पताल में चल रहा है.

बता दें, घटना बीती देर रात की है जब अपराधियों ने शहर के चर्चित सर्जन डॉ. शिवशंकर महतो को राजोपट्टी परिसदन के सामने उनके निजी नर्सिंग होम में घुसकर गोली मार दी. गोलीबारी में नर्सिंग होम में मौजूद एक नर्स बबली पाण्डे की मौत हो गई.

घटना मंगलवार की देर रात करीब 12.30 बजे की है. जख्मी हालत में डॉक्टर को बगल के एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है. डॉक्टर को तीन गोलियां लगी हैं.

इधर, घायल चिकित्सक का इलाज कर रहे डॉ. प्रवीण कुमार ने बताया कि उन्हें तीन गोलियां सीना, हाथ और पैर में लगी है. उन्होंने बताया कि घायल डॉक्टर का ऑपरेशन किया गया है. जख्मी चिकित्सक ने बताया कि पूर्व से विवाद चल रहा था. कल जब क्लीनिक पहुँचे तो अपराधियों ने उनपर फ़ायरिंग कर दी.

घटना के संबंध में बताया जाता है कि चिकित्सक अपनी पत्नी डॉ शबनम के अलावे स्टाफ दो स्टाफ और नर्स के साथ अपने नवनिर्मित क्लिनिक देखकर शंकर चौक से वापस लौटे थे.

Also Read | बिहार अनलॉक 7.0 : सबकुछ खुलेंगे, लेकिन सावधानी के साथ

डॉक्टर आईबी के सामने स्थित अपने क्लिनिक में पहुंचे. वहां पहले से घात लगाए चार अपराधियो ने डॉक्टर पर गाड़ी से उतरते ही अंधाधुंध फायरिंग करना शुरू कर दिया. इस फायरिंग में तीन गोलियां डॉ महतो को तथा पांच गोलियां नर्स बबली को लगी. बबली की मौत घटनास्थल पर ही हो गई.

इधर चालक की स्फूर्ति के कारण अन्य लोग सुरक्षित बच गए. आनन फानन में चिकित्सक को दूसरे प्राइवेट क्लिनिक में भर्ती कराया गया. जबकि अभी भी घायल डॉक्टर की स्थिति गंभीर बनी हुई है.

सूचना पर पहुंचे एसपी डीएसपी समेत विभिन्न थानों की पुलिस मामले की जाँच में जुट गई है. मृतका के शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर हॉस्पिटल भेज दिया गया .

सूत्रों की मानें तो पुलिस संदेह के आधार पर चिकित्सक के भतीजे को पूछताछ के लिए अपने साथ ले गई है. मामला जमीनी विवाद से जुड़े होने की संभावना बताई जा रही है. वैसे चिकित्सक पहले से भी पारिवारिक विवाद से जूझ रहे हैं. पहली पत्नी से तलाक के बाद अपने क्लिनिक में कार्यरत एक महिला कर्मी से अन्तरधर्म शादी कर चुके है और उन्ही के साथ क्लिनिक चला रहे है. पुलिस इन सभी बिंदुओं पर ध्यान रखते हुए जांच में जुट गई है.