गोपालगंज हत्याकांड पर DGP का बयान

पटना (TBN रिपोर्ट) | बिहार के गोपालगंज ट्रिपल मर्डर को लेकर जो राजनीतिक दलों में घमासान जारी है. राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने सामूहिक हत्याकांड में नामजद प्राथमिकी दर्ज होने के बाद भी जदयू विधायक की गिरफ्तारी न होने को लेकर नीतीश सरकार के ऊपर हमला करते हुए खूब बयानबाजी की. सियासी गलियारों में राजनीति का मुद्दा बन चुके गोपालगंज हत्या कांड पर डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय ने फेसबुक लाइव के माध्यम से अपने विचार प्रकट किये .

डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय ने कहा कि सबसे पहले किसी भी कांड की सच्चाई समझने व जानने के लिए तह तक जाने की आवश्यकता होती है.  वो भी जात, धर्म और मजहब से ऊपर उठकर.  डीजीपी ने बताया कि गोपालगंज के एक बच्चे की मर्डर मिस्ट्री को सुलझाने मौके वारदात पर खुद क्यों गए थे.

डीजीपी ने ऐसे लोगों को नसीहत देते हुए कहा कि बिना किसी चीजों को समझे हुए कुछ भी लिखना, बोलना नहीं चाहिए. पुलिस साक्ष्य के आधार पर गोपालगंज ट्रिपल मर्डर केस में काम कर रही है. इस कांड में आरोपी की गिरफ्तारी भी हो चुकी है . इसलिए अपराधी कोई भी हों, किसी जात ,मजहब से हो पुलिस उसे बख्शने  का काम नहीं करती है.