और इस तरह जज के घर हुई दिन-दहाड़े डकैती

रोहतास (TBN – The Bihar Now डेस्क)| बिहार में अपराधियों ने जज के परिवार के साथ बड़ी वारदात को अंजाम दिया है. मामला रोहतास जिले के बिक्रमगंज का है जहां बिक्रमगंज अनुमंडल न्यायालय के दीवानी न्यायाधीश महेश्वर नाथ पांडेय के आवास पर दिनदहाड़े आए तीन अपराधियों ने लूटपाट की और घूमते रहे. बताया जाता है कि बिक्रमगंज कोर्ट में तैनात प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी महेश्वर नाथ पांडे जब कोर्ट में गए तो कई अपराधी उनके दरवाजे पर पहुंचे और जज की तलाश करने लगे.

पीने के लिए पानी मांगा

जब जज की पत्नी गुंजा देवी ने बताया कि जज कोर्ट गए हैं तो तीनों ने पीने के लिए पानी मांगा. जज के घर की नौकरानी जैसे ही पानी लेने अंदर गई तो तीनों अपराधियों ने पत्नी को बंधक बना लिया और पीटना शुरू कर दिया. इस दौरान बदमाशों ने अलमारी में रखे 50 हजार रुपये के अलावा उसकी पत्नी के सारे जेवर खोल लिए थे, साथ ही 5 साल की बेटी लाडो के साथ भी मारपीट की.

घर पर पत्नी और बेटी मौजूद थे

सिविल जज महेश्वर पांडे ने बताया कि 50 हजार नकद के अलावा करीब 2 लाख के जेवर लूट लिए गए हैं, साथ ही उनकी पत्नी और बच्चे के साथ भी मारपीट की गई है. जिस समय अपराधियों ने जज के सरकारी आवास पर धावा बोला, उस वक्त जज की पत्नी और बेटी के अलावा घर में एक नौकरानी भी थी. दिनदहाड़े तीनों को अपने कब्जे में लेकर लूट को अंजाम दिया गया. अपराधियों के जाते ही जज की पत्नी ने फोन कर घटना के बारे में बताया तो हड़कंप मच गया.

बिक्रमगंज थाने की पुलिस के अलावा अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे. इसके साथ ही कई न्यायिक अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए हैं. दिनदहाड़े हुई इस घटना में सुरक्षा के सारे दावे बेनकाब हो गए हैं. आपको बता दें कि जज के लोगों का आवास सुनसान इलाके में है जहां पहले भी अपराधी घूमते देखे जाते थे. न्यायिक अधिकारियों ने इसके लिए कई बार सुरक्षा की मांग भी की थी.

जज ने कहा- पहले से था असुरक्षा का डर

इस घटना के बाद सिविल जज महेश्वर पांडे ने बताया कि उनके आवास का इलाका बेहद सुनसान इलाके में है और इससे पहले भी इलाके में कुछ संदिग्ध लोग घूमते नजर आते थे, इसके लिए उन्होंने कई बार अधिकारियों को इसकी सूचना भी दी और आवास क्षेत्र के सुरक्षा की मांग की थी. इस संबंध में न्यायिक और प्रशासनिक अधिकारियों को भी मौखिक रूप से सूचित किया गया था, लेकिन अभी भी घर में रहने वाले परिवार के सदस्य इस तरह की घटनाओं से चिंतित हैं.

यह भी पढ़ें – राज्य में जला देने वाली गर्मी !

मौके पर पहुंचे डीएसपी शशि भूषण सिंह

घटना की संवेदनशीलता को देखते हुए बिक्रमगंज के डीएसपी शशि भूषण सिंह मौके पर पहुंचे और डॉग स्क्वायड को भी बुलाया जा रहा है ताकि दोषियों की जल्द से जल्द पहचान हो सके. जिस तरह से एक जज की आवाज में लूट की घटना को दिनदहाड़े अंजाम दिया गया है, इसके बाद प्रशासन हरकत में आ गया है.

होमगार्ड की सुरक्षा मौजूद

जज ने बताया कि जज आवास की सुरक्षा होम गार्ड जवानों के भरोसे है. 5 होमगार्ड जवान के भरोसे सुरक्षा है, वे भी अंचल के कार्यलय में रहते हैं. उन्होंने कहा कि कई बार प्रशासन से सुरक्षा की मांग की गई, लेकिन प्रशासन ने उपलब्ध नहीं कराई.

बताया कि एक जनवरी को भी तीन संदिग्ध लोग आए थे, जिसकी प्रशासन को सूचना दी गई थी, पर प्रशासन ने सुरक्षा की व्यवस्था नहीं की. जज ने बताया कि घटना कि जानकारी देने के 15 मिनट बाद पुलिस पहुंची. केस दर्ज कराया गया है.

(इनपुट-एजेंसी)