बिहार में शराबबंदी का फिर से मज़ाक उड़ा- “उप प्रमुख” की गाड़ी से शराब बरामद

बिहार में शराबबंदी क़ानून की एक बार फिर से धज्जियाँ उड़ा दी गयीं हैं। पुलिस एवं उत्पाद विभाग की टीम की लगातार चौकसी के बाद भी बिहार में भारी मात्रा में शराब का पाया जाना मानो ऐसा प्रतीत होता है जैसे शराबबंदी क़ानून मात्र सिर्फ शब्दों में सिमटकर रह गया है। शराब के तस्करों को पकडे जाने का डर मानो ख़त्म सा हो गया है और तस्कर नई नई तरकीब लगाकर शराब की तस्करी कर रहे हैं।

वाहन चेकिंग अभियान के दौरान शनिवार को उत्पाद विभाग की टीम को एक बड़ी सफलता मिली है। जांच चौकी पर उत्पाद विभाग की टीम ने एक स्कार्पियो गाड़ी ( नंबर- बीआर-29 पी- 9498) को पकड़ा है जिसके आगे नेम प्लेट पर ‘उप प्रमुख रतनी फरीदपुर’ का बोर्ड लगा रखा
था। गाड़ी की चेकिंग के दौरान उसमे भारी मात्रा में देसी-विदेशी शराब पायी गयी। पुलिस एवं उत्पाद विभाग की टीम ने शराब के साथ चार लोगों को भी गिरफ्तार किया है।

उत्पाद सहायक आयुक्त किशोर कुमार साह के अनुसार “शनिवार की अहले सुबह उत्पाद जांच चौकी पर अभियान में शराब लदी स्कार्पियो गाड़ी ( नंबर- बीआर-29 पी- 9498) पकड़ी गई। जांच में 12 कार्टन में देसी शराब 288 बोतल और पांच कार्टन में 125 बोतल बीयर पकड़ी गई। शराब के साथ जहानाबाद जिले के शकुराबाद थाना क्षेत्र के इब्राहिमपुर के शराब माफिया रवि कुमार, अजय कुमार, बिट्टू कुमार और गौरव कुमार को गिरफ्तार किया गया। मामला दर्ज कर सभी को जेल भेज दिया गया”।

एक अन्य मामले में वाहन जांच के दौरान एक सवारी बस से एक युवक के पास से विदेशी शराब की 18 बोतल बरामद की गयी हैं। मिली जानकारी के अनुसार पकडे गए युवक का नाम सुरेश सिंह है और वो औरंगाबाद जिले के ढिबरा थाना क्षेत्र का रहने वाला है। इस कार्यवाही में इंस्पेक्टर रूबी कुमारी सहित पुलिसकर्मियों का महत्वपूर्ण योगदान रहा।