प्रतिबंधित मांस से लदा ऑटो जब्त, गुस्साये लोगों ने ऑटो फूंक कर किया सड़क जाम, किया बवाल

मुजफ्फरपुर (TBN – The Bihar Now डेस्क)| शहर के सदर थाना क्षेत्र स्थित भगवानपुर चौक पर मंगलवार सुबह प्रतिबंधित मांस लदे चालक सहित एक ऑटो को पकड़ा (Caught an auto with a driver carrying banned meat in Muzaffarpur) गया. इसे स्थानीय लोगों की मदद से हिंदू संगठन बजरंग दल (Hindu Sangathan) के कार्यकर्ताओं ने पकड़ा.

पकड़ने के क्रम में ऑटो चालक ने कूदकर भागने का प्रयास किया परंतु आक्रोशित लोगों ने उसे पकड़ लिया. उसके बाद उसे दौड़ा-दौड़ाकर जमकर पीटा और ऑटो को पलट कर आग के हवाले कर दिया. लोगों ने जमकर बवाल और हंगामा करते हुए सड़क जाम कर दिया.

सूचना मिलते ही सदर थानाध्यक्ष (Sadar SHO) मणिभूषण कुमार और जैनेंद्र झा दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. पुलिस ने ऑटो चालक को आक्रोशित भीड़ की चुंगल से छुड़ाकर हिरासत में लिया.

आननफानन में आग को बुझाया गया और आक्रोशितों को समझाकर शांत कराया गया. पुलिस ने वहां मौजूद गुस्साई भीड़ को उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया जिसके बाद लोग शांत हुए और जाम समाप्त हुआ. इस बीच बीबीगंज से लेकर कच्ची पक्की तक करीब 10 किलोमीटर लंबा जाम लग गया.

जुरन छपरा से ले जा रहा था प्रतिबंधित मांस

हिरासत में लिए गए ऑटो चालक के अपना नाम नौशाद बताया है. उसने पुलिस को बताया कि वह जुरन छपरा (Juran Chhapra, Muzaffarpur) से प्रतिबंधित मांस लेकर मड़वन जा रहा था जिसके लिए उसे मोटी रकम देने का लालच दिया गया था.

गिरफ्तार चालक ने प्रतिबंधित मांस की तस्करी करने वाले लोगों का भी नाम पुलिस को बताया है. प्रभारी थानेदार ने बताया कि प्रतिबंधित मांस को जब्त कर मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है. वरीय अधिकारियों के निर्देशानुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी.

यह भी पढ़ें| स्कूटर पर मवेशी ढुलाई वाले ‘चारा घोटाला’ में लालू दोषी करार, 21 को सजा का ऐलान

खबरों के अनुसार, मंगलवार सुबह भगवानपुर की तरफ से एक ऑटो पर प्रतिबंधित मांस रखकर मड़वन ले जाया जा रहा था. इसकी सूचना हिन्दू संगठन के कार्यकर्ताओं को लग गयी. उसके बाद दर्जनों की संख्या में संगठन के कार्यकर्ताओं ने उस ऑटो का पीछा करना शुरू किया.

कई किलोमीटर तक खदेड़ा

इधर लोगों को पीछा करते देख ऑटो चालक ने तेजी से अपना ऑटो भगाने लगा. बाइक सवार कार्यकर्ता उसे ओवरटेक कर रहे थे. इस क्रम में दो बाइक सवार असन्तुलित होकर गिर पड़े और जख्मी हो गए. इसके बावजूद हिन्दू संगठन के अन्य कार्यकर्ता उस ऑटो का पीछा करते रहे. लगभग पांच किलोमीटर तक खदेड़ने के बाद ऑटो को दबोच लिया गया. फिर उसे पकड़कर भगवानपुर चौक पर लाया गया.

तस्कर वहां से भागा

मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि उक्त ऑटो पर तीन लोग सवार थे. उसमें मुख्य तस्कर, ऑटो चालक और एक अन्य व्यक्ति सवार था. लेकिन रास्ते में हंगामा होने के बाद तस्कर समेत दो व्यक्ति रास्ते मे ही कूदकर भाग निकले.

पुलिस ने तस्कर व अन्य की तलाश में छापेमारी कर रही है. प्रभारी थानेदार ने बताया कि लिखित शिकायत मिलने के बाद एफआईआर दर्ज किया जाएगा.

वहीं, हिन्दू संगठन के कार्यकर्ता राजेश और कुंदन सिंह ने कहा है कि मामले में उनके कार्यकर्ताओं ने कोई बवाल नहीं किया था. बल्कि वे ऑटो को चालक सहित पकड़कर पुलिस के हवाले करने के लिए लाए थे. लेकिन इसी बीच कुछ उपद्रवियों द्वारा चालक की पिटाई कर ऑटो में आग लगा दिया गया.