राज्य के 99 थाने और ओपी ‘लापता’! बीजेपी विधायक ने विधानसभा में सरकार से पूछा सवाल

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| बिहार विधानसभा के बजट सत्र के दौरान (During the budget session of the Bihar Legislative Assembly) सोमवार को सदन में अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई जब भाजपा विधायक पवन कुमार जायसवाल (BJP MLA from Dhaka Pawan Kumar Jaiswal) ने एक अनोखा मामला उठाने की कोशिश की और सरकार से इसका जवाब मांगा. मांगा. लेकिन सदन में उनकी बात नहीं सुनी गई.

पवन जायसवाल जो मुद्दा सरकार से जानना चाहते हैं वह हैरान करने वाला है. दरअसल पवन जायसवाल बिहार सरकार और पुलिस मुख्यालय से जानना चाहते हैं कि बिहार के 99 पुलिस स्टेशन और ओपी लापता हो गए हैं, अगर उनके पास जानकारी है तो उन्हें बताया जाना चाहिए.

ढाका से बीजेपी विधायक पवन जायसवाल ने सरकार से मांग की है कि बिहार में 99 पुलिस स्टेशन गायब हैं, उनकी जानकारी सार्वजनिक की जाए. विधानसभा में पवन जायसवाल ने गृह विभाग से सवाल पूछा और कहा कि बिहार के 62 थानों और 27 थानों की अधिसूचना पुलिस मुख्यालय को नहीं मिल रही है. वहीं थानों में सीसीटीवी कैमरे लगाने वाली टीएएसएल को भी थाना व ओपी नहीं मिल रहा है.

यह भी पढ़ें| दानापुर में हाईवा से बस टकराई, हादसे में एक दर्जन से अधिक यात्री घायल

उन्होंने आगे कहा कि राज्य के 99 गुमशुदा थानों और ओपी में पूर्वी चंपारण जिले के कार्ट बाजार, जमुनिया गीतवा कट के नवाब, रामपुर खजुरिया नारायण चौक लखौर, पटना जिले के इमामगंज मुसल्लाहपुर, चित्रगुप्त नगर सहित 99 ओपी और पुलिस स्टेशन शामिल हैं. लापता सूची में. राज्य पुलिस मुख्यालय तलाशी में असफल रहा है. भाजपा विधायक ने कहा कि अगर यह मामला सामने आया है तो क्या सरकार ऐसे दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश देगी.

ऑनलाइन जवाब भी दिलचस्प

भाजपा विधायक पवन जायसवाल के सवाल पर विभाग द्वारा भेजा गया ऑनलाइन जवाब भी दिलचस्प है. प्रत्युत्तर में बताया गया है कि प्रदेश में सभी थाना एवं ओपी के गठन के संदर्भ में विभागीय स्तर पर जिलेवार समीक्षा की जा रही है. समीक्षा में प्रत्येक थाने व ओपी से संबंधित नोटिफिकेशन का मिलान कर सत्यापन किया जा रहा है. यदि कोई कार्य केंद्र या ओपी अधिसूचित नहीं पाया जाता है, तो उसे सूचित करने की कार्रवाई की जाएगी.