कोरोना संदिग्ध के कारण पायलट कॉकपिट विंडो से निकला बाहर

नई दिल्ली (TBN रिपोर्ट) | कोरोना का डर इस कदर हावी है हमसब पर जिसका उदाहरण मिला गत शुक्रवार 20 मार्च को पुणे-दिल्ली फ्लाइट I5-732 पर. हुआ यूं कि एयर एशिया इंडिया की फ्लाइट पुणे से दिल्ली जा रही थी. तभी पता चला कि फ्लाइट में कोरोना वायरस का एक संदिग्ध मरीज यात्री कर रहा है. फिर क्या था, पूरे फ्लाइट में दहशत का माहौल बन गया. कोरोना से संक्रमित इस यात्री की खबर मिलने पर विमान के दूसरे यात्री और क्रू के सदस्य इतने घबरा गए कि गए कि लैंडिंग के बाद पायलट-इन-कमांड ने कॉकपिट के सेकेंडरी एक्जिट के द्वारा विमान से बाहर निकलने का विकल्प चुना, जो विमान में एक स्लाइडिंग विंडो होती है.

https://youtu.be/JB4nElestVw

 

बाद में यात्रियों की कोरोना की जांच की गई जिसमें परिणाम नेगटिव आया. इस बारे में एयर एशिया इंडिया के एक प्रवक्ता ने कहा, ’20 मार्च 2020 को I5-732 प्लेन में पुणे से नई दिल्ली फ्लाइट में संदिग्ध COVID-19 यात्री के सवार होने का मामला सामने आया था.’ वह संदिग्ध यात्री पहली पंक्ति में बैठा था जिसके कारण फ्लाइट में दहशत का माहौल था. यात्रियों की बाद में जांच की गई और सभी का टेस्ट नेगेटिव आया. सुरक्षा उपाय के रूप में लैंडिंग के बाद विमान को अलग खड़ा किया गया था. यात्रियों को पीछे के रास्ते उतारा गया.’
एयर एशिया के प्रवक्ता ने कहा कि विमान की पूरी तरह से कीटाणु शोधन और गहरी सफाई की गई. प्रवक्ता ने बताया कि हमारे चालक दल इस प्रकृति की घटनाओं के लिए अच्छी तरह से प्रशिक्षित हैं. इसके साथ ही हम मौजूदा परिस्थितियों में अत्यंत सावधानी के साथ यात्रियों की सेवा जारी रखने में उनके समर्पण के लिए हमारी प्रशंसा दर्ज करना चाहेंगे.’